अनंत तस्‍वीरें दृश्‍यावलियां ख़बर ब्‍लॉग्‍स

लाहौर में तोषी की एकल प्रदर्शनी



ऊपर तोषी की एकल प्रदर्शनी का आमंत्रण पत्र है।

मुझे आप सभी को यह बताते हुए अत्यंत ख़ुशी हो रही है कि तोषी की एकल प्रदर्शनी लाहौर में २१ फरवरी से शुरू हो रही है.उसने लाहोरी बच्चे नाम से रेखांकन की एक सीरीज़ तैयार की है.उसने अपने नज़रिये से लाहोरी बच्चों को देखा है.उसने आमंत्रण पत्र में लिखा है ...

this series ia a conscious effort to express this place from my point of view।these children have been my muse on a daily basis,the world in which they loose themselves and the realities that they are aware of...
यह तोषी उर्फ़ विधा सौम्या के लिए बड़ी कामयाबी है और भारत-पाकिस्तान के सांस्कृतिक रिश्तों में एक बहुत ही छोटी कड़ी है।
तोषी पिछले पांच महीनों से लाहौर में है.वहाँ की उथल-पुथल से वह नहीं घबराई और जब भी हमने लौट आने की बात की तो उसका जवाब हुआ...यहाँ भी तो लोग रहते ही हैं.

5 comments:

Raviratlami said...

तोषी जी को बधाई! उनके रेखाचित्र कहीं इंटरनेट पर फ्लिकर इत्यादि में कहीं मिल सकते हैं? उनसे कहें कि वे प्रदर्शनी के रेखाचित्रों को इंटरनेट पर कही अपलोड कर उपलब्ध करवाएँ.

mamta said...

तोषी को और आप को भी बधाई।

Sanjeet Tripathi said...

बधाई उन्हें!!
अगर संभव हो तो हम भी देखना चाहेंगे प्रदर्शनी के रेखाचित्र

आशीष said...

तोषी और आपको हार्दिक बधाई, हिंदुस्‍तान वापसी के बाद हम भी उसकी प्रर्दशनी देखना चाहेंगे सर

anuradha srivastav said...

तोषी के उज्जवल भविष्य के लिये शुभकामनायें और ढेर सारी बधाई।